राम रहीम की गोद ली हुई बेटी हुई गायब, पुलिस कर रही तलाश

हरियाणा पुलिस राम रहीम की राजदार गोद ली बेटी हनीप्रीत को शिद्दत से तलाश कर रही है, उसको जेल प्रशासन ने पूरी सुरक्षा के साथ 25 अगस्त को फतेहाबाद के लिए रवाना किया था। 25 अगस्त को पंचकूला में राम रहीम को दोषी ठहराए जाने के बाद हनीप्रीत हेलिकॉप्टर में बाबा के साथ सुनारिया जेल आई थी। यहां पर लगभग साढ़े चार घंटे रहने के बाद उसे लेने के लिए चार लोग गाड़ी में आए थे। हनीप्रीत ने जेल प्रशासन को लिखित में दिया था कि वह फतेहाबाद पुलिस के कांस्टेबल विकास के साथ फतेहाबाद जा रही है। उसके साथ झज्जर के दो लोग और थे। लेकिन जेल से बाहर आने के बाद वह कुछ ही घंटे में लापता हो गई।

हनीप्रीत का रोहतक में अनुयायियों के साथ का आखिरी वीडियो और फोटो सामने आया है। इस 12 सेकंड के वीडियो में हनीप्रीत कार में रोहतक से जाती दिखी। हनीप्रीत का आखिरी वीडियो व फोटो रोहतक में पीटीसी स्थित मैस के बाहर का है। बता दें कि राम रहीम ने हनीप्रीत को जेल में साथ रखने की बात कही थी, जिसे अफसरों ने मना कर दिया था। हालांकि, अब राम रहीम ने जेल में मिलने आने वालों की जो लिस्ट अधिकारियों को दी, उसमें हनीप्रीत का नाम नहीं है।
कौन है हनीप्रीत?
– हनीप्रीत का असली नाम प्रियंका तनेजा है। हरियाणा के फतेहाबाद की रहने वाली प्रियंका तनेजा उर्फ हनीप्रीत और विश्वास गुप्ता की शादी डेरा प्रमुख राम रहीम ने ही कराई थी। दोनों की शादी ज्यादा दिन नहीं चल सकी और कुछ समय बाद हनीप्रीत ने राम रहीम से शिकायत की कि उसके ससुराल वाले उसे दहेज के लिए परेशान कर रहे हैं। इसके बाद राम रहीम ने साल 2009 में उसे गोद ले लिया। गुरमीत राम रहीम की खुद की दो बेटियां और एक बेटा है। उनके नाम अमनप्रीत, चमनप्रीत और जसमीत इंसा हैं।  2011 में विश्वास गुप्ता ने पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में मुकदमा दायर कर राम रहीम के कब्जे से उसकी पत्नी यानी हनीप्रीत को मुक्त कराने की मांग की थी। गुप्‍ता ने राम रहीम पर हनीप्रीत के साथ अवैध संबंध होने का भी आरोप लगाया था। हनीप्रीत राम रहीम के सबसे करीबियों में रही है। वह डेरा के कई महत्‍वपूर्ण फैसले लेने के साथ ही राम रहीम की फिल्‍मों को भी डायरेक्‍ट कर चुकी है।  राम रहीम को दोषी ठहराए जाने के दौरान वह कोर्ट रूम से लेकर जेल भेजे जाने तक वह तरह राम रहीम के साथ रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *